कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हाल ही में सिंगापुर के दौरे पर थे। वहां एक कार्यक्रम के दौरान उनसे कुछ व्यक्तिगत सवाल भी शामिल थे। इस सवालों में से एक सवाल उनके पिता राजीव गांधी की हत्या से जुड़ा था। इस सवाल का जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि हमने( राहुल और प्रियंका) अपने पिता के हत्यारों को माफ कर दिया।

ऐसे में सभी के जहन में बस एक बात आती है कि क्या कोई इंसान अपने पिता के हत्यारे को माफ कर सकता है? तो जवाब है हां, क्योंकि इसके पीछे जो कारण राहुल ने बताये अगर हर इंसान वैसी सोच रखने लगे तो तय मानिए ऐसा संभव है।


राहुल ने अपने जवाब में कहा कि हम बहुत दिनों तक परेशान और दुखी रहे, हमें गुस्सा भी बहुत आता था लेकिन फिर हमने अपने आपको समझाते हुए हमने किसी तरह खुद को समझाया और उन्हें पूरी तरह माफ कर दिया। आगे उन्होंने इसके पीछे के कारण बताते हुए कहा कि मैंने और प्रियंका ने हिंसा देखी और झेली है। ऐसे में हम हिंसा कतई पसंद नही करते। हम किसी से नफरत नही करते हैं।

राहुल ने यह भी कहा कि जब वैचारिक टकराव होते हैं तब आपकी जान पर बन आती है। हम यह बात जानते थे कि दादी और पापा की जान जा सकती है। इसके बावजूद अगर आप गलत ताकतों से टकराते हैं तो ऐसा हो जाता है। राहुल का यह बयान एक बड़े दिल वाला का बयान कहा जा सकता है।