लोकसभा चुनाव होने में अभी साल भर का वक़्त बाकी है। साल भर में बहुत कुछ बदल सकता है। समीकरण बदल सकते हैं, मुद्दे बदल सकते हैं, नेता बदल सकते हैं, गठबंधन बदल सकता है और इन सब से हटके पब्लिक का मूड भी बदल सकता है। इसके बावजूद राजनीति के महारथी अभी से अपने अपने दायरे बनाने में और दूसरों के लिए चक्रव्यूह की रचना करने में लगे हैं। हर तरफ से अपने मुताबिक एक परिधि बनाई जा रही है ताकि खुद को सुरक्षित रख कर दूसरों का मुकाबला किया जा सके। यह परिधि कुछ और नही मुद्दे हैं।


अब आप सोच रहे होंगे कि कांग्रेस और बीजेपी के अलावा यह तीसरा चक्रव्यूह कौन रच रहा है। तो आइए हम आपको बताते हैं। यह चक्रव्यूह मोदी-राहुल मुक्त सरकार देश मे बनाने के लिए तेलंगाना के सीएम केसीआर और ममता बनर्जी सहित अन्य दलों के मिलान से बने तीसरे मोर्चे के द्वारा रचा जा रहा है। अब देखना है कि तीसरे मोर्चे में कितनी शक्ति है और वह कब तक राहुल-मोदी को टक्कर दे पाता है। हालांकि इसके अलावा देखना तो यह भी दिलचस्प होगा कि वर्तमान राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह और आक्रामक दिख रहे राहुल में किसका मास्टरप्लान ज्यादा सफल होगा।