80 के दशक में एक मशहूर दक्षिण भारतीय फिल्मों का सितारा अचानक सब के दिलों दिमाग पर छा गई। उनका नाम था शोभा महेंद्र। कहा जाता है कि उन्होनें सिर्फ 17 साल की उम्र से फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। उनकी 30 से ज्यादा फिल्में आईं और इन फिल्मों में उन्होंने अपने अभिनय का ऐसा जादू चलाया की दक्षिण में उनके नाम का जादू सर चढकर बोलने लगा था। उन्होंने अपनी फिल्म पासी के लिए राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार भी जीता था।

उनकी शादी बाली महेंद्र से हुई थी। उनकी माँ का नाम प्रेमा मेनन था। हालांकि इतनी बड़ी स्टार का अंत दुखद रहा और उन्होंने अपने पति से हुए घरेलू विवाद के बाद घर मे ही फांसी लगा अपनी जान दे दी थी। हालांकि उनकी माँ ने इसका आरोप इनके पति पर लगाया था और कहा यह कि उनकी हत्या हुई है लेकिन आज तक यह बात स्पष्ट रूप से खुल कर पता न चल सकी की हकीकत क्या था? खबरों के मुताबिक उनके पति पहले से शादी शुदा थे और बाद के दिनों में पहली पत्नी से नजदीकी के चलते ही शोभा से उनका विवाद होने लगा था।