जयलक्ष्मी रेड्डी को लोग फटाफट जयलक्ष्मी के नाम से ज्यादा जानते थे। इस अभिनेत्री ने मलयालम, तमिल और तेलुगु फिल्मों में काम किया था। उनका यह नाम इसलिए पड़ा क्योंकि उन्होंने कमल हसन के साथ एक फ़िल्म की थी, इस फ़िल्म में उन्होंने कई बार फटाफट शब्द का प्रयोग किया था। इसी फिल्म के बाद वह ज्यादा लोकप्रिय हुईं और उनका नाम ही फटाफट पड़ गया।

जयालक्ष्मी ने उस समय के सबसे नामी गिरामी अभिनेताओं जैसे एनटीआर, चिरंजीवी, रजनी जैसे बड़े अभिनेताओं के साथ कई फिल्में की, यह फिल्में काफी लोकप्रिय हुईं और वह तमिल और तेलगु सिनेमा की एक बडी अभिनेत्री बन गईं। उनकी शादी एनटीआर के भतीजे मरुधर गोपालन रामचंद्रन के साथ हुई थी। हालांकि 1978 में उन्होंने आत्महत्या कर ली और उनकी लाश घर मे पंखे से लटका हुआ मिला माना जाता है कि उनकी शादीशुदा जिंदगी में काफी परेशानियां थीं और इन्ही से तंग आकर उन्होंने अपने करियर की बुलंदी पर रहने के बावजूद आत्महत्या कर ली थी।