अवसाद को योग के इन पांच आसनों से दूर भगाएं, खुशहाल जिंदगी पाएं

आइए बताएं ऐसे पांच योगासन के बारे में जिनसे अवसाद को हराया जा सकता है।

अवसाद आज के समय मे एक ऐसी विकराल समस्या का रूप लेता जा रहा है जिसकी राह हमें आत्महत्या जैसे गंभीर मंजिल तक ले जाती है। आज की इस भाग दौड़ में हर किसी न किसी को कुछ न कुछ चिंता है। किसी को खोने की है, किसी को पाने की है,  हम इसे काफी नजरअंदाज भी करते हैं लेकिन एक वक्त के बाद यह हमें काफी नुकसान पहुंचाने लग जाता है। जिसके बाद हम न अपनी ऊर्जा का प्रयोग कर पाते हैं न दिमाग का। हालांकि इस अवस्था से निकलने में योग एक बड़ी भूमिका निभा सकता है। तो आइए बताएं ऐसे पांच योगासन के बारे में जिनसे अवसाद को हराया जा सकता है।

उत्तनासन- यह आसन दिमाग को एकाग्र और स्थिर बनाता है। साथ ही हर दो मिनट पर इसे दोहराने से सकारात्मक ऊर्जा शरीर मे आती है ऐसा माना जाता है।

जनुसिर्सान- यह आपके दिमाग को शांत रखने के साथ सही ऊर्जा के प्रवाह में मददगार होता है। इसे करने से आप खुद में तरोताजा महसूस करेंगे।

भुजंगासन- अवसाद से ग्रसित लोगों के लिए यह सबसे उपयुक्त आसान है। यह मस्तिष्क के साथ लीवर और किडनी के लिए भी फायदेमंद है।

सेतुबंधुसर्वागसन- इस आसन से आप शारीरिक के साथ मानसिक रूप से मजबूत होते हैं ऐसा माना जाता है। इसका असर फेफड़े पर भी सकारात्मक रूप से पड़ता है।

सलंबशीर्षासन- यह आसन थोड़ा कठिन माना जाता है लेकिन यह अवसाद के पीड़ितों के लिए सबसे ज्यादा लाभदायक है और निरंतर अभ्यास से इसे किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *