केंद्र सरकार दीपावली के मौके पर अपने कर्मचारियों के लिए नई सौगात का ऐलान कर सकती है।यह तोहफा सातवें वेतन आयोग की तरफ से दी जा सकती है।आपको बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा बनाई गई केंद्रीय विसंगति समिति की बैठक में न्यूनतम वेतन में वृद्धि को मंजूरी दी जा सकती है।

सातवें वेतन आयोग के तहत केंद्रीय कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन पहले ही 7000 से बढ़ाकर 18000 किया गया था लेकिन इसके विरोध में केंद्रीय कर्मचारियों के संगठनों ने कहा था कि यह काफी नही है और यह कम से कम 26,000 रुपये होना चाहिए।संगठनों के इसी विरोध के बाद सरकार इसमें संसोधन कर सकती है।इस संशोधन के बाद न्यूनतम वेतन 21,000 रुपये किया जा सकता है।

उल्लेखनीय यह भी है कि इससे पहले अधिकतम बेसिक पे को 80,000 से बढ़ाकर 2,50,000 रुपये किया गया था और अगर इस बैठक में न्यूनतम वेतन में वृद्धि के प्रस्ताव को मंजूरी मिलती है तो पहले के मुकाबले यह तीन गुणा ज्यादा होगी।हालांकि अभी तक समिति की बैठक को लेकर किसी निश्चित तिथि घोषणा नही की गई है। इसके बावजूद यह तो तय है कि दीपावली से पहले 7 वें वेतन आयोग को लेकर नाखुश चल रहे केंद्रीय कर्मचारियों और यूनियन को खुशखबरी मिल सकती है।